भारत के पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटलबिहारी वाजपई का निधन


Indian farmer prime minister atal bihari vajpai passed away

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री तथा भारतरत्न माननीय श्री अटल बिहारी बाजपाई का आज शाम 5.05 में बजे निधन हो गया वह 93 वर्ष के थे तथा लम्बे समय से बीमार चल रहे थे| अटलजी दो महीने से एम्स में भर्ती थे, लेकिन पिछले 36 घंटों के दौरान उनकी सेहत बिगड़ती चली गई। उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था। इससे पहले वे 9 साल से बीमार थे।देश के विभिन्न हस्तियों तथा नेताओं ने उनकी मृत्यु पर शोक व्यक्त किया है तथा देश के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनकी मृत्यु में शोक व्यक्त किया तथा अपने ट्विटर में ट्वीट किया कि – “मैं नि:शब्द हूं, शून्य में हूं, लेकिन भावनाओं का ज्वार उमड़ रहा है। हम सभी के श्रद्धेय अटल जी हमारे बीच नहीं रहे। यह मेरे लिए निजी क्षति है। अपने जीवन का प्रत्येक पल उन्होंने राष्ट्र को समर्पित कर दिया था। उनका जाना, एक युग का अंत है। लेकिन वो हमें कहकर गए हैं- मौत की उमर क्या है? दो पल भी नहीं, जिंदगी सिलसिला, आज कल की नहीं। मैं जी भर जिया, मैं मन से मरूं, लौटकर आऊंगा, कूच से क्यों डरूं?”

अटल बिहारी बाजपाई से सम्बंधित प्रमुख्य बातें –

  1. 25 दिसंबर, 1924 को ग्वलियर में उनका जन्म हुआ। वो आजीवन अविवाहित रहे। लेकिन उनकी एक दत्तक पुत्री हैं, जिनका नाम नमिता है। उन्होंने ग्वालियर के विक्टोरिया कॉलेज (अब लक्ष्मीबाई कॉलेज) से शिक्षा ली। उन्हें फिर कानपुर के डीएवी कॉलेज से राजनीति विज्ञान में एमए किया।
  2. 1939 में वो राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़े और उसके पूर्णकालिक सदस्य बन गए। बाद में वह 1951 में वे भारतीय जनसंघ से जुड़ गए जो कालांतर में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नाम से जाना जाता है| उन्हें 1979 में मोरारजी देसाई के मंत्रिमंडल में विदेश मंत्री बनाने का सम्मान प्राप्त हुआ| 1980 में अटल बिहारी वाजपेयी जी देश के प्रमुख्य नेताओं लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी के साथ मिलकर बीजेपी की स्थापना की इसके साथ ही वह भारतीय जनता पार्टी के पहले अध्यक्ष भी बने तथा इस पद को 1980 से लेकर 1986 तक सुशोभित किया|
  3. अटल बिहारी बाजपाई हमारे देश के 3 बार प्रधानमंत्री रह चुके है इनकी क्रमशः 1996(पहला कार्यकाल 13 दिन,भारत के 10वे प्रधानमंत्री), 1998(11 महीने का दूसरा कार्यकाल) और 1999(तीसरा कार्यकाल पाँच वर्षों तक चला) वर्षों में सरकार बानी| इसके साथ ही वह 10 बार लोकसभा हेतु चुने गए तथा 2 बार राज्यसभा हेतु चुने गए|
  4. अटलजी को कविताओं में विशेष रूचि थी उन्हें कविता लिखना तथा पाठ करना पसंद था वह अपने जीवन में एक अच्छे वक्ता थे लोग उन्हें सुनाने के लिए व्याकुल रहते थे इसके साथ ही अटलजी पढ़ने लिखने में विशेष रूचि थी वह हमेशा ज्ञान अर्जन करने में संलग्न रहते थे|
  5. अटलजी एक अच्छे राजनेता ही नहीं अच्छे व्यक्तित्वा के इंसान भी थे उन्हें 2015 में देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न प्रदान किया गया।
  6. अटल बिहारी बाजपाई 19 मार्च 1998 से लेकर 22 मई 2004 तक भारत के प्रधानमंत्री रहे उन्होंने इंद्र कुमार गुजराल का स्थान लिया था |
  7. देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी द्वारा आतंरिक आपातकाल घोषित करने के कारण अटल बिहारी बाजपाई को 1975 से 1977 के बीच कई विरोधी पार्टी के नेताओं के साथ जेल जाना पड़ा| उन्होंने 1977 के चुनाव में जीत हासिल कर मोरारजी देसाई द्वारा स्थापित सरकार में विदेश मंत्री का पद प्राप्त हुआ इसके साथ वह देश के पहले नेता बने जिन्होंने संयुक्त राष्ट्र सभा को हिंदी में सम्बोधित किया था| उन्होंने अपने आप को एक गणमान्य राजनेता के रूप में नई पहचान दिलाई|
  8. परमाणु अनुसन्धान – भारत ने अपना पहला परमाणु अनुसन्धान चुपचाप मई 1998 में किया जिसमे 5 परमाणु अनुसन्धान शमील है यह अनुसन्धान राजस्थान के पोखरण में किया गया था| यह भारत का वर्ष 1974(पहला परमाणु अनुसन्धान) के बाद किया गया अनुसन्धान तथा जिसे करने में भारत को 24 वर्ष लगे| इस परमाणु अनुसन्धान के समय भारत में अटलबिहारी बाजपाई की सरकार थी जिसमे अटलजी ने विशेष भूमिका निभाई उन्ही के प्रयास से यह परमाणु अनुसन्धान संभव हो पाया|

—अन्य—

उन्हें प्राप्त सम्मान

  1. 1992 – पदमविभूषण
  2. 1993 – D. Lit की उपाधि कानपूर यूनिवर्सिटी के द्वारा
  3. 1994 – लोकमान्य तिलक पुरुस्कार
  4. 1994 – उत्कृष्ट संसदीय पुरस्कार
  5. 1994 – भारत रत्न पंडित गोविंद वल्लभ पंत पुरस्कार
  6. 2015 – भारत रत्न
  7. 2015 – बांग्लादेश लिबरेशन वार सम्मान

उन्हें द्वारा संभाले गए पद

  1. 1951 – भारतीय जनसंघ के संस्थापक-सदस्य
  2. 1957 – दूसरी लोकसभा के लिए निर्वाचित
  3. 1957-77 – भारतीय जनसंघ संसदीय दल के नेता
  4. 1962 – राज्यसभा के सदस्य
  5. 1966-67 – सरकारी आश्वासन समिति के अध्यक्ष
  6. 1967 – चौथी लोकसभा के लिए पुन: निर्वाचित (दूसरी बार)
  7. 1967-70 – लोक लेखा समिति के अध्यक्ष
  8. 1968-73 – भारतीय जनसंघ के अध्यक्ष
  9. 1971 – पांचवीं लोकसभा के लिए पुन: निर्वाचित (तीसरी बार)
  10. 1977 – छठी लोकसभा के लिए पुन: निर्वाचित (चौथी बार)
  11. 1977-79 – केन्द्रीय विदेश मंत्री
  12. 1977-80 – जनता पार्टी के संस्थापक सदस्य
  13. 1980 – सातवीं लोकसभा के लिए पुन: निर्वाचित (पांचवीं बार)
  14. 1980-86 – भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष
  15. 1980-84, 1986 और 1993-96 – भाजपा संसदीय दल के नेता
  16. 1986 – राज्यसभा के सदस्य; सामान्य प्रयोजन समिति के सदस्य
  17. 1988-90 – आवास समिति के सदस्य; कार्य-संचालन सलाहकार समिति के सदस्य
  18. 1990-91 – याचिका समिति के अध्यक्ष
  19. 1991 – दसवीं लोकसभा के लिए पुन: निर्वाचित (छठी बार)
  20. 1991-93 – लोकलेखा समिति के अध्यक्ष
  21. 1993-96 – विदेश मामलों सम्बन्धी समिति के अध्यक्ष; लोकसभा में प्रतिपक्ष के नेता
  22. 1996 – ग्यारहवीं लोकसभा के लिए पुन: निर्वाचित (सातवीं बार)
  23. 16 मई 1996 – 31 मई 1996 – तक-भारत के प्रधानमंत्री; विदेश मंत्री और इन मंत्रालयों/विभागों के प्रभारी मंत्री-रसायन तथा उर्वरक; नागरिक आपूर्ति, उपभोक्ता मामले और सार्वजनिक वितरण; कोयला; वाणिज्य; संचार; पर्यावरण और वन; खाद्य प्रसंस्करण उद्योग; मानव संसाधन विकास; श्रम; खान; गैर-परम्परागत ऊर्जा स्रोत; लोक शिकायत एवं पेंशन; पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस; योजना तथा कार्यक्रम कार्यान्वयन; विद्युत; रेलवे, ग्रामीण क्षेत्र और रोजगार; विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी; इस्पात; भूतल परिवहन; कपड़ा; जल संसाधन; परमाणु ऊर्जा; इलेक्ट्रॉनिक्स; जम्मू व कश्मीर मामले; समुन्द्री विकास; अंतरिक्ष और किसी अन्य केबिनेट मंत्री को आबंटित न किए गए अन्य विषय।
  24. 1996-97 – प्रतिपक्ष के नेता, लोकसभा
  25. 1997-98 – अध्यक्ष, विदेश मामलों सम्बन्धी समिति
  26. 1998 – बारहवीं लोकसभा के लिए पुन: निर्वाचित (आठवीं बार)
  27. 1998-99 – भारत के प्रधानमंत्री; विदेश मंत्री; किसी मंत्री को विशिष्ट रूप से आबंटित न किए गए मंत्रालयों/विभागों का भी प्रभार
  28. 1999 – तेरहवीं लोकसभा के लिए पुन: निर्वाचित (नौवीं बार)
  29. 13 अक्तूबर 1999 से 13 मई 2004 – तक-भारत के प्रधानमंत्री और किसी मंत्री को विशिष्ट रूप से आबंटित न किए गए मंत्रालयों/विभागों का भी प्रभार
  30. 2004 – चौदहवीं लोकसभा के लिए पुन: निर्वाचित (दसवीं बार)

Join Our whatsapp group and download our app for daily notification and updates


Related Post
Welcome to cgpsc.info

हमारे एंड्राइड अप्प को डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए प्ले स्टोर आइकॉन पर क्लिक करें- धन्यवाद