जानिए छत्तीसगढ़ की कुश्ती चैंपियन लीना यादव के बारे में


Chhattisgarh’s first wrestling coach line yadav

छत्तीसगढ़ प्रदेश के रायपुर के हांडीपारा मोमिन गली तात्यापारा वार्ड में रहने वाली कुमारी लीना यादव ने छत्तीसगढ़ प्रदेश का नाम कुश्ती में रोशन किया है उन्होंने कुश्ती के अनेक आयोजित प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ का नाम रोशन किया है| छत्तीसगढ़ में कुश्ती को राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय पहचान दिलाने वाली कुमारी लीना यादव अत्यंत संघर्षपूर्ण जिंदगी है| कुमारी लीना यादव के पिता कुंज बिहारी यादव उन्हें कुश्ती हेतु सप्पोर्ट करते है वो एक कुश्ती में चैंपियन व्यक्ति है अतः वह कुश्ती के गुर भी उन्हें सिखाते है|

कुमारी लीना यादव की प्रारंभिक पढ़ाई सरकारी हायर सेकंडरी स्कूल दानी गर्ल्स से हुई है। छत्तीसगढ़ में पहली महिला कुश्ती कोच व राष्ट्रीय खिलाड़ी के सफर के साथ उन्होंने स्नातकोत्तर उपाधि भी प्राप्त कर ली है। अब वे 40 गरीब बच्चों को कुश्ती सिखा रही हैं। जिसमे लड़कियां भी शामिल है|

उनके द्वारा प्राप्त कुछ महत्पूर्ण चैंपियनशिप

  1. साल 2004 में पहली बार कुश्ती छत्तीसगढ़ में आयोजित कराई गई थी इस प्रतियोगिता में लीना यादव ने पहला मेडल प्राप्त किया था|
  2. वह छत्तीसगढ़ प्रदेश की पहली महिला कुश्ती कोच होंगी| उनके नेतृत्व में अनेक महिला पहलवान देश का नाम रोशन करने के लिए आगे आ रही हैं।
  3. लीन साल 2017 में नेशनल रैफरी क्वालीफाई हुईं हैं|
  4. साल 2017 में ही वह इंडिया कैम्प के लिए के लिए चयनित हुईं।
  5. उनके नेतृत्व में लखनऊ में ही दस बालिकाओं को भी चयनित किया गया है। यहां तक बैंकांक और थाईलैंड तक जाकर अपना परचम लहराया है। 09 मेडल भारत लेकर आए। वहां भी कुश्ती में उनकी टीम ओवरऑल में सेकंड में रही ।

 

Welcome to cgpsc.info

हमारे एंड्राइड अप्प को डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए प्ले स्टोर आइकॉन पर क्लिक करें- धन्यवाद