वरिष्ठ लेखक और लोक संस्कृति के विशेषज्ञ श्री निरंजन महावर का निधन


Chhattisgarh Writer nirajan mahawar death

वरिष्ठ लेखक और लोक संस्कृति के विशेषज्ञ श्री निरंजन महावर का निधन हो गया है स्वर्गीय श्री महावर ने मध्यप्रदेश आदिवासी लोक कला परिषद की कार्यकारिणी में विशेषज्ञ सदस्य के रूप तथा  पत्रिका ‘चौमासा’ के सलाहकार के रूप में अपने सेवाएं कई वर्षों तक प्रदान की है| श्री निरंजन महावर का कल यहां अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में इलाज के दौरान निधन हो गया|

मुख्य बातें –

  1. स्वर्गीय श्री निरंजन महावर ने लगभग चार दशकों तक राज्य के आदिवासी जनजीवन का गहरा अध्यन किया है तथा उनके जीवन में आदिवासी समाज का गहरा प्रभाव है इसके साथ ही उन्होंने जीवन शैली तथा कला-संस्कृति के विभिन्न पहलुओं पर कई ज्ञानवर्धक पुस्तकों को भी लिखा|
  2. स्वर्गीय श्री निरंजन महावर ने छत्तीसगढ़ के बस्तर अंचल के साथ-साथ ही झारखण्ड, ओडि़शा और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों के लोक जीवन और वहां की लोक कलाओं का गंभीर अध्यन किया| उनके शव को भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) को दान स्वरुप दिया गया|
  3. श्री महावर ने मध्यप्रदेश आदिवासी लोक कला परिषद की कार्यकारिणी में विशेषज्ञ सदस्य के रूप में लगभग आठ वर्षों तक और इस परिषद की त्रैमासिक पत्रिका ‘चौमासा’ के सलाहकार मंडल के सदस्य के रूप में लगभग 20 वर्षों तक अपनी सेवाएं प्रदान की|

Join Our whatsapp group and download our app for daily notification and updates


Related Post
Welcome to cgpsc.info

हमारे एंड्राइड अप्प को डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए प्ले स्टोर आइकॉन पर क्लिक करें- धन्यवाद