छत्तीसगढ़ रायपुर के जंगल सफारी में घायलों जानवरों के इलाज के लिए खोला जायेगा रेस्क्यू सेंटर


  1. छत्तीसगढ़ रायपुर के जंगल सफारी में घायलों जानवरों के इलाज के लिए रेस्क्यू सेंटर खोला जायेगा इसके लिए नेशनल जू अथॉरिटी ने अनुमति प्रदान की है| जंगल सफारी का प्रबंधन जल्दी ही रेस्क्यू सेंटर बनाने हेतु काम शुरू करेगा|
  2. जंगल सफारी में रेस्क्यू सेंटर खोलने से वन्य प्राणियों का इलाज हो पायेगा| रेस्क्यू सेंटर ना होने से सफारी के जानवरों की मौत हो जाती थी| अब उनकी सुरक्षा आसानी से की जा सकेगी|
  3. रेस्क्यू सेंटर बनाने के लिए जंगल सफारी स्थित अस्पताल के बगल में जगह चिन्हित कर ली गई है। प्रबंधन ने नक्शा तैयार कर लिया है। वन विभाग के अधिकारी ने बताया कि बाहर से आने वाले वन्य प्राणियों को स्वस्थ होने के बाद छोड़ दिया जाएगा।
  4. एशिया की सबसे बड़ी मानव निर्मित जंगल सफारी में शेर, व्हाइट टाइगर, चीतल, नीलगाय, भालू, मगरमच्छ, दरियाई घोड़ा आदि हैं। सबसे ज्यादा तेंदुओं और भालुओं के घायल होने की संभावना रहती है। इसके अलावा जंगल में घूमने वाले अन्य जीवों को अक्सर चोट लगती रहती है। रेस्क्यू सेंटर न होने से वन्य प्राणियों को चोट लगने से दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। रेस्क्यू सेंटर में शाकाहारी और मांसाहारी वन्य जीवों के लिए अगल-अलग सेल बनाकर उपचार कियाा जाएगा।
  5. जंगल सफारी का रेस्क्यू सेंटर पहला सेंटर होगा जहां घायल जानवरों की देखभाल की जाएगी। इसके लिए कमरे बनाए जाने हैं, जिनमें अलग अलग श्रेणी के जानवरों को रखा जाएगा। एक डॉक्टर तैनात रहेंगे। घायल जानवरों के ट्रीटमेंट की सारी सुविधा रहेगी। खाने-पीने के लिए अलग जगह बनाई जाएगी।

Download Pdf

महत्वपूर्ण लिंक

Join Our whatsapp group and download our app for daily notification and updates


Related Post
Welcome to cgpsc.info

हमारे एंड्राइड अप्प को डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए प्ले स्टोर आइकॉन पर क्लिक करें- धन्यवाद